मराठा आंदोलन पर सरकार से बनी बात, आज आंदोलन समाप्त करेंगे जरांगे; जानें अबतक के अपडेट

मुंबई: लंबे समय से चल रही मराठा आंदोलन अब समाप्त होने जा रहा है। मराठा आरक्षण के नेता मनोज जरांगे पाटिल ने इस बात की पुष्टि की है। मनोज जरांगे पाटिल ने कहा है कि वह आज सुबह इस आंदोलन को समाप्त कर देंगे, उनका विरोध भी अब समाप्त हो गया है। उन्होंने कहा कि सीएम शिंदे ने हमारा अनुरोध स्वीकार कर लिया है, इसलिए अब हम अपना आंदोलन आज समाप्त कर देंगे। बता दें कि मनोज जरांगे पाटिल शनिवार को सीएम शिंदे की मौजूदगी में अपना आंदोलन समाप्त करेंगे। इस बात की जानकारी उन्होंने खुद दी है। उन्होंने कहा कि “मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने अच्छा काम किया है। हमारा विरोध अब खत्म हो गया है। हमारा अनुरोध स्वीकार कर लिया गया है। हम उनका पत्र

स्वीकार करेंगे।

जरांगे ने सरकार को दी थी चेतावनी

बता दें कि मराठा आरक्षण आंदोलन के नेता मनोज जरांगे ने शुक्रवार को सरकार को चेतावनी देते हुए कहा था कि जब तक समुदाय को सरकारी नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण नहीं मिल जाता, तब तक वह अपना आंदोलन बीच में समाप्त नहीं करेंगे। हालांकि महाराष्ट्र के मंत्री दीपक केसरकर ने दावा किया था कि कार्यकर्ता की मांगें स्वीकार कर ली गई हैं। जरांगे एक सरकारी प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक के बाद पड़ोसी नवी मुंबई के वाशी इलाके में शिवाजी चौक पर प्रदर्शनकारियों को संबोधित कर रहे थे। कार्यकर्ता ने कहा कि प्रतिनिधिमंडल ने उन्हें

कुछ दस्तावेज दिए हैं, जिन पर वह अपने समर्थकों के साथ चर्चा करके अपनी भविष्य की रणनीति की घोषणा करेंगे।

आज खत्म हो जाएगा आंदोलन
वहीं अब आज मनोज जरांगे पाटिल की घोषणा के बाद यह तय हो गया है कि मराठा आरक्षण आंदोलन पर सरकार के साथ सहमति बन गई है और आज इसे समाप्त कर दिया जाएगा। मनोज जरांगे पाटिल ने आज खुद इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि सीएम एकनाथ शिंदे की मौजूदगी में वह अपना आंदोलन समाप्त करेंगे। राज्य के शिक्षा मंत्री दीपक केसरकर का कहना है कि जरांगे की मांगें मान ली गई हैं और उन्हें सरकारी प्रक्रिया के अनुसार पूरा किया जाएगा। शिक्षा मंत्री का कहना है कि अब तक 37 लाख कुनबी प्रमाण पत्र दिये जा चुके हैं और यह संख्या 50 लाख तक जायेगी।

Leave a Comment