Tulsi Shaligram Vivah 2022: आज देवउठनी एकादशी पर क्यों होती है तुलसी-शालिग्राम विवाह की परंपरा ? जानिए सबकुछLatest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

देव उठनी एकादशी एक अबूझ मुहूर्त है जिसमें किसी भी समय बिना मुहूर्त के शुभ कार्य किए जा सकते हैं। देव उठनी एकादशी को देव प्रबोधिनी एकादशी और देवोत्थान एकादशी के नाम से भी जाना जाता है।

Leave a Comment