रायपुर पुलिस:- *अलग – अलग विभागों में
नौकरी लगाने का झांसा देकर लाखों रूपये की ठगी
करने वाला आरोपी भूपेश सोनवानी गिरफ्तार

Toran Kumar reporter..10.7.2023/✍️

रायपुर- प्रार्थी सुरेन्द्र कुमार वर्मा ने थाना सिविल लाईन में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह ग्राम माठ पोस्ट खरोरा जिला रायपुर का निवासी है तथा ठेकेदारी एवं कृषि कार्य करता है। मंत्रालय में आपदा प्रबंधक के पद के लिये प्रार्थी के पुत्र लोकेन्द्र वर्मा एवं रिश्तेदार बलराम वर्मा एवं एम्स में नर्सिंग स्टॉफ पद हेतु मानषु वर्मा ने ऑन लाईन फार्म भरा था। माह अगस्त 2022 में कलेक्ट्रेट गार्डन में प्रार्थी का परिचय उसकेे एक मित्र के माध्यम से भूपेश कुमार सोनवानी निवासी अमर चौक राजातालाब रायपुर से हुआ था। इसी दौरान भूपेश कुमार सोनवानी ने प्रार्थी को बताया कि उसका मंत्रालय एवं स्वास्थ्य विभाग में वरिष्ठ अधिकारियांे से जान पहचान है एवं भर्ती में वह सेटिंग करवा देगा। जिस पर प्रार्थी ने भूपेश सोनवानी को बताया कि मंत्रालय में आपदा प्रबंधक के पद के लिये उसके पुत्र लोकेन्द्र वर्मा एवं रिश्तेदार बलराम वर्मा एवं एम्स में नर्सिंग स्टॉफ पद हेतु मानषु वर्मा ने फार्म भरे है। तब उसके द्वारा प्रार्थी को बताया गया कि लेबर निरीक्षक, खाद्य निरीक्षक एवं मेकाहारा में चपरासी पद के लिये अंडर ग्राउंड संविदा भर्ती निकला है जिसमें वह नौकरी लगवा देगा कि प्रार्थी लेबर निरीक्षक पद के लिये अपने रिश्तेदार प्रदीप वर्मा, दीपक वर्मा एवं दुर्गेश वर्मा तथा खाद्य निरीक्षक पद के लिये मारूति नंदन वर्मा व मेकाहारा में चपरासी पद हेतु लक्की ऊर्फ लिकेश वर्मा का नौकरी लगाने कहा। जिस पर भूपेश कुमार सोनवानी ने स्वयं भर्ती के लिये फार्म लाकर सभी से भरवाया तथा कहा कि वह इन लोगो का नौकरी लगवाने का पूर्ण आश्वासन दिया एवं भूपेश कुमार सोनवानी द्वारा प्रार्थी को आपदा प्रबंधक हेतु 10,50,000 रू, लेबर निरीक्षक हेतु 8,00,000 रू, खाद्य निरीक्षक हेतु 5,00,000 रू, एम्स में नर्सिंग स्टाफ हेतु 4,00,000 रू एवं मेकाहारा में चपरासी पद हेतु 3,50,000 रू. लगना बताकर रूपयों की मांग की गई। जिस पर प्रार्थी अपने पुत्र एवं रिश्तेदारों को उक्त पदों पर नौकरी लगाने हेतु भूपेश कुमार सोनवानी को अलग – अलग तिथियों व किश्तों मे कुल 30,50,000/- रूपये दिया तथा भूपेश कुमार सोनवानी द्वारा नौकरी लगने के बाद प्रार्थी से 40,00,000/- रूपये और लगेगा कहा था। इसी दौरान प्रार्थी को जानकारी प्राप्त हुई कि भूपेश कुमार सोनवानी द्वारा अन्य कई लोगों को विभिन्न शासकीय विभागों मंे नौकरी लगाने का झांसा देकर उनसेे भी लाखों रूपये लिया गया है। इस प्रकार भूपेश कुमार सोनवानी द्वारा प्रार्थी के पुत्र एवं रिश्तेदारों सहित अन्य लोगों को विभिन्न शासकीय विभागों के विभिन्न पदों में नौकरी लगाने का झांसा देकर कुल 70,10,000/- रूपये ठगी किया गया। जिस पर आरोपी भूपेश कुमार सोनवानी के विरूद्ध थाना सिविल लाईन मंे अपराध क्रमांक 329/23 धारा 420 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

लाखों रूपये की ठगी की घटना को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री प्रशांत अग्रवाल द्वारा गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर/अपराध श्री अभिषेक माहेश्वरी, नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाईन श्री मनोज ध्रुव, प्रभारी एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट तथा थाना प्रभारी सिविल लाईन को आरोपी की पतासाजी कर जल्द से जल्द गिरफ्तार करने निर्देशित किया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट तथा थाना सिविल लाईन पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा घटना के संबंध में प्रार्थी सहित अन्य पीड़ितो से विस्तृत पूछताछ कर आरोपी की पतासाजी करना प्रारंभ किया गया।

टीम के सदस्यों द्वारा आरोपी के छिपने के हर संभावित स्थानों मंे लगातार रेड कार्यवाही करते हुए प्रकरण में संलिप्त आरोपी भूपेश कुमार सोनवानी को पकड़ा गया। पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा ठगी की उक्त घटनाओं को अंजाम देना बताया गया। जिस पर आरोपी को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से घटना से संबंधित 01 नग मोबाईल फोन जप्त कर आरोपी के विरूद्ध कार्यवाही किया गया।

गिरफ्तार आरोपी – भूपेश कुमार सोनवानी पिता भोला सिंह सोनवानी उम्र 48 साल पता ग्राम दबनई, थाना देवभोग, जिला गरियाबंद। हाल पता – अमर चौक राजातालाब सिविल लाईन रायपुर।

Leave a Comment