ओलंपिक रजत पदक विजेता पहलवान रवि दहिया की ट्रायल में शर्मनाक हार, अब एशियाई खेलों में नहीं खेल पाएंगे

Toran Kumar reporter…23.7.2023/✍️

ओलंपिक रजत पदक विजेता रवि दहिया एशियाई खेलों में भाग नहीं ले पाएंगे क्योंकि रविवार को इंदिरा गांधी स्टेडियम में हुए ट्रायल्स में वह 57 किग्रा भार वर्ग में अतीश टोडकर से हारकर बाहर हो गए. दहिया को अपने उत्कृष्ट कौशल और दमखम के कारण ‘ मशीन’ कहा जाता है और उनसे महाराष्ट्र के रहने वाले टोडकर के खिलाफ अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी.

रविवार को उन्होंने कुछ शानदार अंक बनाए लेकिन टोडकर ने आखिर में उन्हें चित कर दिया. दहिया के मामले में ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है. टोडकर तब 20-8 से आगे चल रहे थे जब उन्होंने दहिया के कंधे को जमीन पर लगाया। टोडकर ने दहिया को लगातार चकमा दिया और अपने शानदार खेल से उलटफेर भरी जीत दर्ज की.

दहिया ने अपने दाहिने घुटने में एसीएल (एंटीरियर क्रूसिएट लिगामेंट) और एमसीएल (मेडियल कोलैटरल लिगामेंट) की चोटों के कारण किसी प्रतियोगिता में भाग नहीं लिया था. रवि पिछले दिनों भारतीय कुश्ती संघ के निर्वासित अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह और अन्य कोचों के खिलाफ पहलवानों के प्रदर्शन में शामिल थे.

दहिया ने टोक्यो ओलंपिक में रजत पदक जीता था. इसके अलावा उन्होंने 2019 विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक अपने नाम किया. वह 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण जीतने में सफल रहे थे. हालांकि वह अब तक एशियाई खेलों में पदक नहीं जीत पाए थे और अब उनका यह इंतजार और ज्यादा लंबा हो गया है.

Leave a Comment