Balasore Train Accident: बालासोर ट्रेन हादसे में CBI की बड़ी कार्रवाई, रेलवे के 3 स्टाफ को किया गिरफ्तार, लगे हैं ये आरोप

Toran Kumar reporter..8.6.2023/✍️

Balasore Train Accident Update: ओडिशा के बालासोर में जून महीने की शुरुआत में हुए भीषण रेल हादसे के सिलसिले में CBI रेलवे के तीन स्टाफ को गिरफ्तार किया है. रिपोर्ट के मुताबिक, CBI ने सेक्शन इंजीनियर मोहम्मद आमिर खान, अरुण कुमार मोहंता और टेक्नीशियन पप्पू कुमार की IPC की धारा 304 और 201 के तहत गिरफ्तार किया है. सीबीआई ने इन पर सबूत नष्ट करने, गैर इरादतन हत्या से जुड़ी धाराएं लगाई हैं. मालूम हो कि 2 जून को हुए इस हादसे में 292 लोगों की जान चली गई थी और कई गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

सीबीआई कर रही जांच
सीबीआई ने 6 जून को ओडिशा के बालासोर में हुए ट्रेन हादसे की जांच अपने हाथ में ली. इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम के साथ छेड़छाड़ के संदेह बढ़ने पर CBI ने FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी.

कैसे हुआ था भीषण हादसा?
ओडिशा के बालासोर में ट्रेन दुर्घटना में 292 लोगों की मौत हो गई, जब कोरोमंडल एक्सप्रेस (Coromandel Express) दो जून को बाहानगा बाजार स्टेशन के पास शाम 7 बजे के आसपास एक खड़ी मालगाड़ी से टकरा गई, जिससे उसके अधिकतर डिब्बे पटरी से उतर गए. उसी समय दूसरी लाइन से गुजर रही बेंगलुरु-हावड़ा एक्सप्रेस के आखिरी कुछ डिब्बों से कोरोमंडल एक्सप्रेस के कुछ डिब्बे टकरा गए.

अब तक 52 शवों की पहचान नहीं
बालासोर रेल हादसे में मारे गए करीब 50 लोगों की पहचान अब तक नहीं की जा सकी है. उनके शव अब भी भुवनेश्वर स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में रखे हुए हैं. इस बीच, भुवनेश्वर नगर निगम (BMC) ने दो पीड़ितों के अवशेषों का यहां सत्य नगर श्मशान भूमि में अंतिम संस्कार कर दिया है. एक अधिकारी ने बताया कि एम्स, भुवनेश्वर में हादसे में मारे गए 81 लोगों के शव रखे गए थे, जिनमें से 29 शवों की पहचान DNA जांच के जरिये की गई. पहचाने गए 29 शवों में से 22 का रविवार को दाह संस्कार कर दिया गया. उन्होंने बताया, ‘मौजूदा समय में ट्रेन हादसे में मारे गए 52 पीड़ितों के शव एम्स, भुवनेश्वर में रखे गए हैं.’

Leave a Comment