छत्तीसगढ़ मैं जांजगीर-चांपा मैं अवैध शराब पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला, टीआई और एएसआई घायल

Toran Kumar reporter

जांजगीर-चांपा । ग्राम सेमरिया में अवैध शराब पकड़ने गई पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने जानलेवा हमला कर दिया। इसमें पामगढ़ थाना प्रभारी ओमप्रकाश कुर्रे और एएसआई शिव चंद्रा गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों को उपचार के लिए सीएचसी पामगढ़ लाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद उनकी स्थिति को देखते हुए बिलासपुर रेपुर किया गया है।

जिले के गांव गांव में महुआ शराब बनाकर बेचने का अवैध कारोबार धडल्ले से चल रहा है। पामगढ़ ब्लाक के देवरी, खोरसी, तनौद, कोसा, सेमरिया में भी बड़े पैमाने पर महुआ शराब की बिक्री की जा रही है। गुरूवार को पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम सेमरिया के सबरिया डेरा में बड़ी मात्रा में अवैध शराब तैयार किया जा रहा है। सूचना मिलने पर डीएसपी मुख्यालय निकोलस खलखो के नेतृत्व में थाना प्रभारी ओमप्रकाश कुर्रे, एएसआई शिव चंद्रा और 4-5 पुलिसकर्मी पामगढ़ थाना क्षेत्र के सेमरिया गांव के सबरियाडेरा में शराब पकड़ने गए थे। पुलिस ने अवैध शराब के साथ एक महिला को हिरासत में लिया और उसे पूछताछ के लिए अपने साथ लेकर आ रहे थे। निकोलस खलखो टीम के साथ चार पहिया वाहन में आरोपित महिला को लेकर आगे बढ़ गए थे। वहीं थाना प्रभारी ओमप्रकाश कुर्रे, एएसआई शिव चन्द्रा बाइक से आ रहे थे, तभी महिला के स्वजन के साथ करीब दर्जन भर से अधिक ग्रामीण

पहुंचे और थाना प्रभारी और एएसआई को बीच रास्ते में रोककर उन पर डंडे से जानलेवा हमला कर दिया। हमले में थाना प्रभारी ओमप्रकाश कुर्रे और एएसआई शिव चंद्रा के सिर पर गंभीर चोट आई है। दोनों घायलों को उपचार के लिए सीएचसी पामगढ़ लाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद दोनों की गंभीर स्थिति को देखते बिलासपुर रेफर किया गया है। अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। इधर घटना के बाद एएसपी अनिल सोनी पुलिस फोर्स के साथ पामगढ़ के सेमरिया गांव पहुंचे हैं। गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। एसपी विजय अग्रवाल ने कहा कि आरोपितों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। जल्द ही सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Comment