श्रद्धा की हत्या के बाद आफताब ने एक अन्य लड़की को घर बुलाकर बनाए थे संबंध, कबूलनामा सुन सिहर जाएंगे

श्रद्धा की हत्या के आरोपी आफताब से जुड़े सिलसिलेवार खुलासे हैरान करने वाले हैं. एक युवती की क्रूर हत्या के बाद शातिर सामान्य जीवन बिता रहा था, वह इस तरह से बर्ताव कर रहा था जैसे मानों कुछ हुआ ही नहीं. पुलिस को पड़ताल में आफताब ने यह कबूल किया है उसी ने श्रद्धा की हत्या की थी. आफ़ताब शुरू से पुलिस से सिर्फ अंगेजी में बात कर रहा है. पुलिस के सख्त सवालों के जवाब में उसने कहा ”Yes I killed Her”.

पुलिस की पूछताछ में आफताब ने बताया कि श्रद्धा की हत्या के 20-25 दिन बाद ही उसने एक अन्य लड़की के साथ सेक्स किया था. इस अन्य लड़की से उसकी मुलाकात एक डेटिंग एप्प के जरिए हुई थी. जानकारी के मुताबिक दूसरी लड़की के आने से पहले आफताब ने श्रद्धा से जुड़े सबूतों को छिपा दिया था. उसने डेडबॉडी के पार्ट्स को छिपाकर एक अलमारी में रख दिया था.

आफताब ने यह सब एक प्लानिंग के तहत किया, उसने बताया कि झगड़े के दौरान वह श्रद्धा की छाती पर बैठ गया था. इसके बाद गला दबाकर उसकी हत्या कर दी, वारदात को अंजाम देने के बाद शातिर ने श्रद्धा की लाश को बाथरूम में रख दिया था. इसके बाद इंटरनेट के जरिए यह पता लगाया कि कैसे बॉडी को काटा जा सकता है और कैसे फर्श पर लगे खून को दागों को मिटाया जा सकता है. उसने फर्श को धोने के लिए सल्फर हाइपोक्लोरिक एसिड का इस्तेमाल किया, ताकि फोरेंसिक जांच के दौरान DNA सैंपल ना मिले.

इतना ही नहीं आफताब ने श्रद्धा के और अपने खून से सने कपड़ों को भी बड़ी आसानी से ठिकाने लगा दिया. आरोपी ने बताया कि उसने कूड़ा उठाने वाली एमसीडी की वैन में उन कपड़ों को डाल दिया था. यह सब उसने छत्तरपुर इलाके के फ्लैट में किया. उसने बताया कि कैसे उसे किराये पर कमरा मिला था. बकौल आफताब, हिमाचल में उसकी मुलाकात बद्री नाम के शख्स से हुई थी. उसी के कहने पर आफताब और श्रद्धा छतरपुर में रहने लगे थे. बद्री खुद भी छत्तरपुर इलाके में रहता है.

Leave a Comment