नूंह हिंसा में अब तक 6 की मौत, 116 लोग गिरफ्तार; हरियाणा समेत दिल्ली में हाई अलर्ट, राजधानी में 23 जगहों पर बजरंग दल का विरोध प्रदर्शन

Toran Kumar reporter..2.8.2023/✍️

हरियाणा के नूंह जिले से शुरू हुई हिंसा देखते ही देखते अब राजधानी दिल्ली पहुंच गई है. इस हिंसा ने मेवात, गुरूग्राम समेत राज्य के कई क्षेत्रों को अपनी चपेट में लिया और अब धीरे-धीरे दिल्ली की ओर बढ़ रही है. नूंह हिंसा में अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, 30 अन्य को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. हरियाणा में बिगड़े हालात को देखते हुए राजधानी में अलर्ट जारी किया गया है, क्योंकि विश्व हिंदू परिषद (VHP) और इसकी युवा शाखा बजरंग दल कार्यकर्ता आज 23 जगहों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

दिल्ली के बदरपुर बॉर्डर पर वीएचपी के कार्यकर्ता टोल रोड को जाम कर सड़क पर प्रदर्शन करें रहे हैं जिसके बाद बदरपुर से लेकर फरीदाबाद के रास्ते पर तकरीबन 3 से 4 किलोमीटर लंबा जाम लगा है. वही, अलग-अलग जगहों पर तैनात दिल्ली पुलिस की टीम वीएचपी और बजरंग दल कार्यकर्ताओं से कह रही है कि वह अपना प्रदर्शन सड़क से हटकर करें ताकि लोगों को सड़क पर जाम की समस्या ना झेलनी पड़े. वही, इस दौरान जाम में फंसे लोगों ने बताया reporter बताया कि उन्हें जाम की वजह से काफी परेशान हो रही है किसी को अस्पताल तो किसी को दफ्तर जाने में दिक्कत हो रही है.

हिंसा के बाद नूंह में कर्फ्यू लगाया गया है और इस पर काबू पाने के लिए अर्धसैनिक बलों की 20 टुकड़ियों को तैनात किए गए हैं. हरियाणा के नूंह, पलवल, मानेसर, सोहाना और पटौदी में इंटरनेट सेवाएं बंद कर हैं और अब स्थिति काबू में बताई जा रही है. इसको देखते हुए बुधवार को नूंह में कर्फ्यू में दो घंटे के लिए (दोपहर 12:30 से 2:30 तक) ढील दी. नूंह हिंसा में अब तक 6 लोगों की मौत हुई इनमें से दो होमगार्ड जबकि 4 आम नागरिक हैं. वहीं, अब तक 26 FIR दर्ज हैं जबकि, 116 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बताया कि हरियाणा पुलिस की 30 और अर्धसैनिक बलों की 20 टुकड़ियों की तैनाती की गई है. अर्धसैनिक बलों की 14 टुकड़ियां नूंह में, 3 पलवल में, 2 फरीदाबाद में जबकि एक गुरुग्राम में तैनात है. उन्होनें लोगों से शांति और भाईचारा बनाने की अपील की है. सीएम खट्टर ने कहा कि किसी भी दोषी या षड्यंत्रकारी को बख्शा नहीं जाएगा. नूंह और आसपास के इलाके में फिलहाल स्थिति सामान्य, सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट मोड पर रखा गया है.

सीएम खट्टर ने नूंह हमले को एक बड़ी साजिश का हिस्सा बताया, जबकि VHP ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी से हिंसा की जांच की मांग की. इससे पहले नूंह जिले में कर्फ्यू लगा दिया गया. सुरक्षा बलों ने आसपास के जिलों में भी फ्लैग मार्च किया और कई शांति समिति की बैठकें की गईं.

Leave a Comment

%d bloggers like this: